चिरकुंडा नगर पंचायत वासी गंदगी में जीने को हैं मजबूर।

कुमारधुबी। देश के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी स्वच्छ भारत मिशन के तहत देश के एक सौ पच्चीस करोड़ो लोगो को जागरूक कर रहे हैं।स्वछता के लिए समाचार पत्रों के माध्यम से विज्ञापन भी किये जा रहे हैं। लोग को जागरूक कर हमारे भारत को स्वच्छ सुंदर बनाने की कोशिश जारी हैं।जिसके लिए भारत सरकार करोड़ो रूपये खर्च कर रही है।


पर चिरकुण्डा नगर पंचायत वार्ड संख्या 9 यादव मुहल्ला में मानो इस मिशन का कोई असर ही नहीं हो पा रहा हैं।चिरकुण्डा नगर पंचायत के तमाम दावे आईना दिखा रही है।सड़के की ऐसी दुर्दशा जो कि यहां रहने वाले लोग आऐ दिन किसी ना किसी बीमारी से ग्रस्त हो रहे हैं।वार्ड संख्या 9 के पार्षद साजिदा खातून कभी भी अपने वार्ड की दौरा नही करती हैं।महज वोट के समय ही जनता का हमदर्द बनती हैं।फिर उन्हें जनता सें कोई वास्ता नही हैं।यहाँ पर गुजर बसर कर रहे लोगों ने इसकी शिकायत चिरकुण्डा नगर पंचायत के वर्ड पार्षद,चिरकुण्डा नगर पंचायत के अध्यक्ष सहित उपाध्यक्ष को कई बार कर ध्यान आकर्षित कराया गया हैं।मगर किसी जनप्रतिनिधियो ने इस समस्या का निदान नही किया।स्वच्छ भारत की सपने मुंगेरी लाल की तरह ही हसीन सपने देख रहे हैं। स्वच्छ भारत के नाम पर सारे जनप्रतिनिधि हाथों झाड़ू लिए जरूर अखबारों में दिख जायेंगे।जो कि महज एक दिखावा हैं। वास्तविक स्थिति कुछ और है ।यहां की जनता गंदगी में जीवन जीने को मजबूर हैं।पर,किसी को कोई भी इसकी चिंता ही नही हैं।

394 total views, 1 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *