सिवान सीट में मची खलबली पूर्व सांसद की पत्नी ने चुनावी मैदान को गर्म किया क्लिक करें और जाने पूरी खबर।

NTL NEWS .Con:7909029958 .Santosh yadav

बिहार:चुनाव आयोग द्वारा लोकसभा चुनाव की तारीख जारी करने के बाद सारे राजनैतिक दल और सारे दावेदारों ने प्रचार प्रसार शुरू कर दिया है। इसी कड़ी में बिहार की राजनीति में बाहुबली नेता माने जाने वाले मोहम्मद शहाबुद्दीन इस बार जेल में होने के कारण लोकसभा चुनाव नहीं लड़ पाएंगे।गौरतलब है कि मोहम्मद शहाबुद्दीन राष्ट्रीय जनता दल के पूर्व सांसद हैं।जो बिहार की सीवान लोकसभा सीट से चुनाव लड़ चुके हैं।आने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर सियासी गलियारों में कई राजनीतिक बदलाव देखने को मिल रहे हैं।इस दौरान सीवान के पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन की पत्नी हिना शहाब ने मीडिया से बातचीत की। मीडिया से बातचीत करते हुए हिना शहाब ने कहा कि हम पद के लालची हैं। शहाबुद्दीन की पत्नी हिना ने कहा है कि सीवान के वर्तमान सांसद ओम प्रकाश यादव विकास का फंड दूसरे जिले को दे दिया है। इस दौरान हिना ने कहा है कि लोकसभा चुनाव में सीवान की जनता अगर आरजेडी उम्मीदवार के तौर पर हमें मौका देती है तो एक महिला सांसद के रूप में बता दूंगी कि विकास क्या होती है और विकास की धारा कैसे बहती है। सिवान जनता और पूरा देश बीजेपी की असलियत को जान चुका है अब बदलाव की जरूरत है।शहाबुद्दीन की राजनीतिक गैर मौजूदगी में अपने आवास पर हिना शहाब ने लोकसभा चुनाव और आरजेडी की चुनावी तैयारियों को लेकर मीडिया से रूबरू होते हुए कहा कि चाहे चुनाव नतीजे कुछ भी आए,उसे मैं स्वीकार करूंगी।आने वाले लोकसभा चुनाव में जनता ही देश का भविष्य तय करेगी। क्योंकि चुनाव की मालिक जनता होती है।जनता जो कहेगी मैं वह स्वीकार करूंगी।उन्होंने बताया कि आरजेडी सीवान में पूर्व कैबिनेट मंत्री अवध बिहारी चौधरी के नेतृत्व में चुनाव लड़ेगी और परिणाम भी बेहतर होगा।हिना साहब ने बताया कि सीवान में परिवारवाद को नकारते हुए कहा कि पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन नहीं चाहते थे कि उनके परिवार का कोई भी सदस्य राजनीति में आए और राजनीति करें। लेकिन वक़्त बहुत बलवान है। समय और परिस्थिति के साथ साथ जनता की मांग को लेकर राजनीति में आना पड़ा। मेरे राजनीति में आने का कारण है कि भाजपा को हराकर सिवान की जनता को तरक्की की राह पर ले जाना।अब ये देखना दिलचस्प होगा कि हिना शहाब सीवान से अगर चुनाव लड़ती है तो क्या जनता उन्हें स्वीकार करेगी।क्या हिना शहाब लोकसभा चुनाव में जनता का दिल जीतने में कामयाब होकर जीत हासिल करेगी।बता दें कि कोर्ट ने 2009 में शहाबुद्दीन के चुनाव लड़ने पर रोक लगा दी।उस वक्त लोकसभा चुनाव में शहाबुद्दीन की पत्नी हिना शहाब ने पर्चा भरा था।लेकिन वह चुनाव हार गई थी।

नेशनल टुडे लाइव सच के साथ सच की बात।

242 total views, 2 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *